Man Tarang

200.00

by: Dr. Akanksha

ISBN: 9789391219871

Page: 129

PRICE: 200

Category: JUVENILE NONFICTION / Poetry / General

Delivery Time: 7-9 Days

Description

About The Book
मन तरंग मन रूपी समुद्र में उठने वाली वह छोटी-छोटी तरंगें हैं, जिनमें सामाजिक जनचेतना का भाव है तो कहीं आक्रोश का स्वर है। तरंगें सदैव एक सी नहीं रहती नित नए रंग बदलना उनका स्वाभाविक धर्म है। यही परिवर्तन व्यष्टि और समष्टि का जीवन है। मन तरंग अवस्था, दशा, दिशा एवं विचारों के परिवर्तन की एक श्रंखला है जो जन जीवन में व्याप्त सामाजिक ,आर्थिक, मनोवैज्ञानिक, राजनीतिक, एवं धार्मिक मनोभावों का लेखा-जोखा प्रस्तुत करती है।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Man Tarang”

Your email address will not be published.